Breaking News
Home / खबरे / इतना आलीशान है ज्योतिरादित्य सिंधिया का महल

इतना आलीशान है ज्योतिरादित्य सिंधिया का महल

ज्योतिरादित्य सिंधिया को तो जानते ही होंगे जो आज के वक्त में देश के बहुत ही बड़े और जाने माने अमीर राजनेताओं और बिजनेसमैन में गिने जाते है. कही न कही उनके बारे में आपको अच्छे से मालूम ही होगा लेकिन अगर सही मायने में बात करते है तो उनकी सम्पति किसी व्यक्ति की सोच से ज्यादा है और उनके महल के बारे मैं बताए जो कि उनको विरासत में मिला हुआ है वो तो अपने आप में बहुत ही ज्यादा विशाल और शानदार है इस बात में शक नही है.

जयविलास पैलेस, अन्दर मौजूद है 400 से अधिक कमरे

ज्योतिरादित्य सिंधिया का जो महल है ये ग्वालियर शहर में स्थित है यह मध्य प्रदेश में आता है। क्योंकि इनके पुरखो का राज पाठ इसी जगह था. ये महल दूर से ही दिखने में बहुत अधिक विशाल और आकर्षक नजर आता है। ये बात जानते तो हम लोग भी है और अधिकतर लोग इस बारे में अपनी अपनी राय देते नजर आ जाते है. इस महल के अन्दर लगभग 400 कमरे है जिनमे से 40 कमरों को तो म्यूजियम में तब्दील किया गया है जो दिखने में और भी ज्यादा शानदार दिखता है.

3500 किलो के झूमर, बेल्जियम के कारीगर

इस महल के अन्दर एक अच्छी बात यह है कि इसके अन्दर जो झूमर लगे हुए कई क्विंटल वजनी है और इनको बनाने के लिए जो कारीगर कारीगरी पर लगे हुआ थे वो भी बहुत दूर दूसरे देश से बुलाये गये थे. इन्होने बहुत ही अच्छे और शानदार तरीके से इसे बनाया था। देखने वाले तो एक बार के लिए बस देखते ही रह गये थे। आज भी इनकी चमक इतने वक्त बाद ऐसी की ऐसी ही बनी हुई है.

डायनिंग हॉल में लगी हुई है चांदी की बनी ट्रेन

अगर हम बात करे भोजन की तो यहाँ पर खाना खाने का तरीका भी पूरा शाही ही होता है. खाने के लिए यहाँ पर टेबल पर ट्रेन है जो खाना लाती है। ये ट्रेन जो है वो बहुत ही ज्यादा देखने में भव्य है और लोगो के लिए रईस तरीके से खाना को लेकर आने मै एक अलग एहसास करवाती है जो अपने आप में बहुत ही ज्यादा स्पेशल बात है. कही न कही ये हर कोई पसंद भी करता है.

वही इसके अलावा इस पूरे पैलेस की कीमत कई हजार करोड़ रूपये में अनुमान की जाती है और इसमें मौजूद जो भी फर्नीचर है वो भी काफी राजसी ठाठ बाट से भरपूर है और अच्छा खासा नजर आता है और ये चीज अपने आप में बहुत ही ज्यादा ख़ास है.

About neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *