पोर्न रैकेट मामला: गहना वशिष्ठ बोलीं – मुंबई पुलिस ने मुझसे रिश्‍वत में मांगे 15 लाख रुपये

बिजनेसमैन राज कुंद्रा से संबंधित पोर्नोग्राफी वाला मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि इस मामले से संबंधित और भी खुलासे होने लगे हैं ।बता दे कि बिजनेसमैन राज कुंद्रा अश्लील वीडियो बनाने एवं मोबाइल ऐप के माध्यम से उस को प्रसारित करने के केस में मुंबई क्राइम ब्रांच पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया है एवं राज कुंद्रा से एवं उनसे संबंधित अन्य लोगों से पूछताछ की जा रही है ।क्योंकि अश्लीलता से संबंधित वीडियो बनाना एवं उन्हें शेयर करना भारतीय कानून में पूर्णतया प्रतिबंधित है ।


इसका उल्लंघन करने पर कानून द्वारा सजा एवं जुर्माने का प्रावधान किया गया है ।इसी बीच कुछ समय पहले पोर्नोग्राफी मामले में गिरफ्तार गहना वशिष्ठ ने हाल ही में मुंबई पुलिस से संबंधित कुछ नए खुलासे किए हैं उनका कहना है कि मुंबई पुलिस ने उनसे 15 लाख रुपए रिश्वत मांगी थी,हाल ही फरवरी 2021 में गहना वशिष्ठ को पोर्न ग्राफी अश्लीलता से संबंधित मामले में मुंबई पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया था जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया था उन्हें लगभग 4 माह की जेल भी हुई थी लेकिन कुछ समय बाद गहना वशिष्ठ को जमानत पर रिहा कर दिया गया था,


फिलहाल में जमानत पर रिहा हैं लेकिन हाल ही में जब राज कुंद्रा से संबंधित पोर्नोग्राफी वाला मामला आया तो गहना वशिष्ठ ने अपने बयान रखते हुए कहा कि मुंबई पुलिस पैसों के लिए कुछ भी कर सकती है जब उन्हें गिरफ्तार किया गया था तो मुंबई पुलिस ने उनसे भी पैसों की डिमांड की थी उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस ने कहा कि वे यदि 1500000 रुपए दे देंगी तो उन्हें इस मामले से सुरक्षित निकाल दिया जाएगा लेकिन इन सब से विपरीत जब गहना वशिष्ठ ने यह कहा कि जब भी गलत नहीं है तो वह क्यों पैसा दे तो पुलिस ने उनसे कहा कि वे चाहे तो किसी के भी खिलाफ मामला बना सकते हैं.

गहना वशिष्ठ ने यह भी बताया कि यह यह सब ऐसे ही नहीं बोल रही हैं उनके पास इस बात के पूरे सबूत भी हैं अपनी बात को प्रूफ करने के लिए उन्होंने व्हाट्सएप चैट का सहारा लिया है व्हाट्सएप चैट दो लोगों के बीच हो रही है जिनमें एक का नाम यश ठाकुर उर्फ अरविंद कुमार श्रीवास्तव हैं और दूसरे का नाम तनवीर हाशमी बताया जाता है।

व्हाट्सएप चैटिंग के दौरान ₹8 लाख के इंतजाम की बात कर रहे हैं गहना वशिष्ट के अनुसार यह चैटिंग या यह बातचीत एवं इसमें हो रहे पैसों की व्यवस्था सिर्फ इसलिए की जा रही है कि यह पैसे में पुलिस द्वारा डिमांड किए गए थे गहना वशिष्ठ के अनुसार यह चैटिंग इस बात का प्रूफ है कि मुंबई पुलिस इन से या किसी से भी पैसों की डिमांड कर सकती है या किसी को भी पैसों के लिए फंसा सकती हैं चाहे उसने गुनाह किया हो या ना किया हो.

sorce

Leave a Reply

Your email address will not be published.