Breaking News
Home / खबरे / IND VS ENG: जसप्रीत बुमराह को 9 विकेट लेने के बावजूद नहीं मिला मैन ऑफ द मैच, जानिए वजह

IND VS ENG: जसप्रीत बुमराह को 9 विकेट लेने के बावजूद नहीं मिला मैन ऑफ द मैच, जानिए वजह

भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड के साथ में मैच खेल रही है. इंग्लैंड के साथ खेला गया पहला मैच ड्रा हो चुका है.भारतीय क्रिकेट टीम जल्दी ही इस मैच में जीत हासिल करने वाली थी. लेकिन बारिश की वजह से यह मैच ड्रॉ हो चुका है. बारिश के अचानक आ जाने की वजह से भारतीय क्रिकेट टीम एक भी गेंद अच्छे तरीके से नहीं फैक की. और भारतीय क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के सामने हार का सामना करना पड़ा. भारतीय क्रिकेट टीम ने पहली पारी में 183 रन बनाएं. पहली पारी में भारत ने इंग्लैंड को 95 रन से हराया. भारतीय क्रिकेट टीम के प्रत्येक खिलाड़ी ने अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिया.

दूसरी पारी में उन्होंने 209 रन बनाए. लेकिन इस बार इंग्लैंड ने भारत को बुरी तरह से हराया. इस क्रिकेट मैच की दूसरी पारी में इंग्लैंड ने 303 रन बनाए थे. भारतीय क्रिकेट खिलाड़ियों को इस मैच को जीतने के लिए चौथे दिन 157 रनों की आवश्यकता थी. लेकिन बारिश की वजह से बस लक्ष्यों को पूरा नहीं कर पाई. इस पारी में उन्होंने 52 रन एक विकेट पर बनाए थे. बता दे भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह ने एक साथ 9 विकेट लिए थे.


और कहा जा रहा था कि जसमीत बुमराह ई मैन ऑफ द मैच बनने वाले हैं. क्योंकि जसमीत बुमराह ने इस मैच के दौरान अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिया और एक साथ 9 विकेट लिए हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें मैच ऑफ द मैच की ट्रॉफी जसमीत बुमराह को नहीं मिली. मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान को दी गई. इंग्लैंड टीम के कप्तान जो रूट ने इस मैच के पहली पारी में अर्धशतक बनाया. और दूसरी पारी में सेंचुरी कंप्लीट की है. इसलिए मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट को दी गई.


लेकिन लाखों लोगों के मन में एक सवाल उठ रहा है कि भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी जसमीत बुमराह ने एक साथ 9 विकेट लिए हैं और इस मैच के दौरान अपना बेहतरीन प्रदर्शन पिया है तो फिर मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी उन्हें क्यों नहीं मिली? आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए यह बताने जा रहे हैं. मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी जसप्रीत बुमराह की जगह इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट को क्यों मिली. सबसे पहले तो जसप्रीत बुमराह ने इस मैच की पहली तीन पारी में अपना कुछ बेहतरीन प्रदर्शन नहीं दिया.आपकी जानकारी के लिए बता दें नॉटिंघम की पिच पर खेलना और रन बनाना बहुत मुश्किल है.

इस पिच का सरफेस इस प्रकार है कि बल्लेबाजों को सेट होने के लिए मुश्किल होती है. किसी बल्लेबाज के लिए इस पर रन बना पाना और भी मुश्किल है. इतनी खराब सरफेस होने के बाद भी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान ने इस मैच के दौरान ढेरों रन बनाएं. इस बात के कारण उन्हें मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी दी गई.और आपको बता दे जो रूट ने दोनों ही पारी में शानदार रन बनाए हैं. पहली बारी में जो रूट ने 64 रन बनाए. और दूसरी पारी में उन्होंने सेंचुरी को भी पार किया. जबकि उनकी टीम के बाकी खिलाड़ी 40 से अधिक रन नहीं बना पाए. जो रूट ने ही दूसरी पारी में 109 रन बनाए. इसलिए मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी जसवीर बुमराह की जगह इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट को दी गई.

SORE

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *