कल्पना चावला के बाद अंतरिक्ष में चमकेगी देश की एक और बेटी, इसरो में हुआ चयन

बेटियां अपने परिवार की शान होती हैं और अब देश की शान भी बन रही हैं। आज कई ऐसी बेटियां हैं, जिन्होंने बड़ी प्रसिद्धि और सफलता हासिल की है। कई बेटियां सर्वोच्च पदों पर आसीन हैं और देश की सेवा कर रही हैं। ऐसा कारनामा हरियाणा की एक बेटी ने किया है। हरियाणा के करनाल की कल्पना चावला के बाद एक और बेटी अंतरिक्ष में अपना नाम रोशन करने जा रही है।

आने वाले दिनों और सालों में इसरो कई खास मिशन करने जा रहा है। ऐसे में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन को सामाजिक कार्यकर्ताओं और वैज्ञानिकों की जरूरत है। पिछले दिनों इसरो की परीक्षा में कुछ लोगों को सफलता मिली है। इन योग्य उम्मीदवारों में कुछ बेटियां ऐसी भी हैं जिन्हें देश का नाम अंतरिक्ष की दुनिया में लाने की जिम्मेदारी मिलेगी.

इंद्री की रहने वाली सुरभि का इसरो में चयन हो गया है। यह चयन और भी खास हो जाता है क्योंकि सुरभि भी कल्पना चावला के शहर करनाल से ताल्लुक रखती हैं। सुरभि ने यह सफलता कड़ी मेहनत और पढ़ाई से हासिल की है। बेटी की इस उपलब्धि पर उसके माता-पिता ने खुशी जाहिर की है। इस खबर के आने के बाद सुरभि का पूरे शहर, रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने जोरदार स्वागत किया। सुरभि ने एक अखबार को बताया कि उन्होंने वाईएससी यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में बी.टेक की डिग्री हासिल की है।

इसके बाद उन्होंने गेट परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी। हालांकि कुछ समय बाद उन्हें आईटी कंपनी टीसीएस में नौकरी भी मिल गई। फिर उनका चयन बीएसएनएल में जेई के पद के लिए भी हुआ। लेकिन, उन्हें इससे भी बड़ा कुछ करना था। सुरभि ने अखबार को बताया कि जब इसरो ने एक साथ 100 सैटेलाइट लॉन्च किए थे, तभी से उनके मन में इसरो में काम करने की इच्छा जाग उठी थी. उन्होंने इसरो की प्रतियोगी परीक्षा में बैठने का फैसला किया और अखिल भारतीय में 8वीं रैंक भी हासिल की। अब उनका इसरो में अंतरिक्ष वैज्ञानिक के रूप में चयन हो गया।

उनके पिता बलदेव राज और मां वीनू ने अपनी बेटी की सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि उन्हें अपनी बेटी पर पूरा भरोसा है, जिस तरह से उसने मेहनत और लगन से पढ़ाई की, उसे एक दिन सफलता जरूर मिलेगी. गारंटी थी। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सुरभि को ट्रेनिंग के बाद एक बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी। इस उपलब्धि का श्रेय उन्होंने अपने माता-पिता को दिया है। उन्होंने युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि लगन और मेहनत से हर मंजिल को हासिल किया जा सकता है। खुद पर विश्वास रखें और प्रयास करते रहें। सफलता अवश्य मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.