इन हिट शो का रीमेक बना ‘चारा’, न टीआरपी मिली, हुआ ऑफ एयर

इतिहास को दोहराने की कोशिश भी करे तो उसमें सफलता की कोई गारंटी नहीं होती। इस ट्रेंड को कई बार टीवी शोज में फॉलो किया जा चुका है। लेकिन हारने के बाद भी मेकर्स इस गलती को दोहराने से नहीं चूक रहे हैं. कई शोज के रीमेक फ्लॉप देखे गए हैं। कुछ चुनिंदा शो ही ऐसे होंगे जिनके रीमेक लोगों को पसंद आएंगे.

नहीं तो ज्यादातर शोज ने मेकर्स के मेकर्स को डुबो दिया है। हाल ही में एवरग्रीन शो रहे बालिका वधू के दूसरे सीजन के ऑफ-एयर होने की खबर सामने आई है. इसमें कितनी सच्चाई है ये तो पता नहीं, लेकिन शो के बंद होने की अटकलें तेज हैं. आनंदी के रोल में ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ फेम शिवांगी जोशी का जादू नहीं चल पाया।


बालिका वधू 2 को न तो टीआरपी मिल रही है और न ही दर्शक। खबरें हैं कि मेकर्स जल्द ही शो को बंद करने वाले हैं। एक संपूर्ण अंत कैसे किया जाए, इसकी तैयारी चल रही है। वैसे ये पहली बार नहीं है जब किसी शो का रीमेक नहीं चला है. आइए एक नजर डालते हैं उन शो पर।

प्यार के कुछ रंग ऐसे

कुछ रंग प्यार के ऐसे भी का तीसरा सीजन नहीं चला। देव-सोनाक्षी की कहानी का जादू इस बार फीका पड़ गया। 2021 में 12 जुलाई को ऑन एयर हुआ यह शो उसी साल 12 नवंबर को बंद कर दिया गया था. दर्शकों को प्रभावित करने में असफल रहा शाहीर शेख और एरिका फर्नांडीज का रोमांस

मन की आवाज प्रतिज्ञा 2

पूजा गौर का शो प्रतिज्ञा हिट रहा था। लेकिन शो का सीजन 2 बुरी तरह फ्लॉप रहा. प्रतिज्ञा के बुलंद इरादों ने इस सीजन में कोई बवाल नहीं किया। प्रतिज्ञा और कृष्णा की बेमेल जोड़ी ने सीजन 1 में लोगों का दिल जीता था। सीजन 2 में उनकी केमिस्ट्री में वह आकर्षण नहीं दिखा। शो लॉन्च होने के कुछ महीने बाद ही बंद हो गया।

तेरा मेरा साथ रहें

सीरियल ‘तेरा मेरा साथ रहे’ लोकप्रिय शो साथ निभाना साथिया का रीबूट वर्जन है। साथिया जहान सालों ऑफएयर रहने के बाद भी धूम मचा रही है। लेकिन इसका रीबूट वर्जन कोई हलचल पैदा नहीं कर सका। शो के ऑफ एयर होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। शो में जिया माणिक, मोहम्मद नाजिम और रूपल पटेल फिर से एक हो गए हैं।

लाडो

‘ना आना इस देश लाडो’ अपने अनोखे कंटेंट की वजह से पसंद किया गया था। बेटियों को जन्म से पहले ही गर्भ में ही मारने की अवधारणा पर आधारित यह शो हिट रहा था। फिर इसका रीबूट वर्जन आया। लेकिन अगर फैंस को मिल गया तो निराशा ही हाथ लगती है। लाडो 2 में अम्मा जी का जादू नहीं चला।
संजीवनी

डॉक्टरों के जीवन पर आधारित शो संजीवनी कई लोगों का पसंदीदा शो बन गया। लेकिन इसके दूसरे सीजन का जादू नहीं चला। जोर शोर से शो का प्रचार किया गया। लेकिन सब बेकार चला गया। इसे लॉन्च होने के कुछ महीने बाद ही पेश किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.