Breaking News
Home / बॉलीवुड / क्या 2022 में इन राशियों पर रहेगी शनि की नजर? क्या आपकी राशि भी इसमें नहीं है।

क्या 2022 में इन राशियों पर रहेगी शनि की नजर? क्या आपकी राशि भी इसमें नहीं है।

शनि देव मनुष्य को उसके कर्मों के अनुसार फल देते हैं। यदि किसी पर शनि का बुरा प्रभाव पड़ता है तो उसे कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

4 दिसंबर को पड़ रही है शनिचरी अमावस्या

शनि साढ़े साती 2022: अब 2022 के आने में कुछ ही दिन बचे हैं. 2021 अपनी अच्छी और बुरी यादों को अलविदा कहने को तैयार है. आपको बता दें कि 29 अप्रैल 2022 को शनि ग्रह कुंभ राशि में गोचर करेगा। इन दिनों शनि मकर राशि में है। वर्तमान में शनि के मकर राशि में होने के कारण वर्ष 2021 में वर्ष 2021 में इन तीन राशियों पर शनि की साढ़े साती चल रही है।

वहीं मिथुन और तुला राशि पर ढैया चल रही है। वहीं अगले साल 8 राशियों पर शनिदेव नजर आने वाले हैं। शनि राशियों पर अपना टेढ़ा लुक अलग-अलग तरह से डालते हैं। कुछ राशियों को जहां 2022 में शनि के प्रकोप से मुक्ति मिलेगी वहीं आने वाला साल कुछ राशियों के लिए मुश्किलों और परेशानियों से भरा हो सकता है।


जानिए कैसी रहेगी शनि की दिशा

1. 2022 में शनि की नजर मिथुन, कर्क, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि के जातकों पर रहेगी, जबकि मेष, वृष, सिंह और कन्या राशि के लोगों को शनि के प्रकोप से मुक्ति मिल सकती है। है।

2. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार वर्ष 2022 में मीन राशि पर साढ़ेसाती शुरू होगी।

3. अगले वर्ष 29 अप्रैल 2022 को शनि ग्रह मकर राशि को छोड़कर कुंभ राशि में प्रवेश करेगा। जिसके बाद धनु राशि वालों को साढ़े साती से राहत मिलेगी, लेकिन इसी के साथ जुलाई एक बार फिर मकर राशि में प्रवेश करेगा, जिससे मिथुन राशि वालों को ढैया से मुक्ति मिलने वाली है.

4. कुंभ राशि के जातकों को इस वर्ष भी शनि के प्रकोप से मुक्ति नहीं मिलेगी। इस राशि पर 2020 से शनि का अर्धशतक गया था जो 2027 तक रह सकता है।

5. जब शनि कुम्भ में प्रवेश करेगा तो 2022 में मीन, कुम्भ और मकर राशि की साढ़े साती होगी, जबकि कर्क और वृश्चिक राशि पर शनि का प्रभाव रहेगा।

6. मार्च 2025 को शनि का मीन राशि में गोचर इस दौरान कुंभ, मेष और मीन राशि के जातक शनि के साथ रहेंगे। मकर राशि में शनि को ढैय्या से मुक्ति मिलेगी।

8. कहा जाता है कि शनि की साढ़ेसाती के पहले चरण में शनि व्यक्ति की आर्थिक स्थिति, दूसरे चरण में पारिवारिक जीवन और तीसरे चरण में स्वास्थ्य को सबसे अधिक प्रभावित करता है। ऐसे में जिन लोगों पर शनि का प्रकोप होता है उनके लिए शनि देव की विशेष पूजा करें। करना चाहिए, इससे जीवन में बहुत लाभ मिलता है।

नोट- यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोक मान्यताओं पर आधारित है, इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। जनहित को ध्यान में रखते हुए इसे यहां प्रस्तुत किया गया है।

About neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *