Breaking News
Home / राशिफल / दीपावली की सफाई से जुड़ी कुछ ऐसी मान्‍यताओं के बारे में, अगर मिल जाएं यह चीज़ तो आप पर मां लक्ष्‍मी की भी विशेष कृपा होंगी

दीपावली की सफाई से जुड़ी कुछ ऐसी मान्‍यताओं के बारे में, अगर मिल जाएं यह चीज़ तो आप पर मां लक्ष्‍मी की भी विशेष कृपा होंगी

नवरात्र बीतने के बाद लोग दीपावली का इंतजार करने लगते हैं। रौशनी के इस त्‍योहार को और भी ज्यादा खास कैसे बनाया जाए। इस बारे में प्‍लानिंग भी करने लगते हैं। दीपावली की तैयारियों में सबसे पहले नंबर भी आता है सफाई का। आज हम आपको यह बताने जा रहे हैं कि दीपावली की सफाई से जुड़ी कुछ ऐसी मान्‍यताओं के बारे में। कहते हैं कि दीपावली से पहले सफाई में अगर आपको यह कुछ खास चीजें मिलें तो यह माना जाता है कि इस बार आपकी दीपावली बहुत जायदा खास भी होने वाली है और आप पर मां लक्ष्‍मी की भी विशेष कृपा ही होगी। आइए हालांकि इन बातों का धर्म और विज्ञान से कोई भी सरोकार नहीं है, लेकिन फिर भी आम लोग इन बातों को तो मानते हैं।

जेब या पर्स में रखे रुपये

दीपावली की सफाई करने में अक्‍सर लोग अपनी अलमारियों को भी फिर से सही करते हैं । पुराने व बेकार हो चुके कपड़ों को भी हटाते हैं। फिर ऐसे पर्स को भी हटा देते हैं। जो बहुत दिन से यूज में न भी आए हों। अगर ऐसे किसी पर्स या फिर कपड़ों की जेब में आपको अगर पैसे मिल जाएं। जिनके बारे में आपको याद ही न हो, यह बहुत ही लकी माना जाता है। अगर आपको भी इस बार सफाई में ऐसे ही कुछ पैसे मिलें तो इसे मां लक्ष्‍मी का आशीर्वाद मानकर धार्मिक कार्यों में ही प्रयोग करें। ऐसा करने से आपके घर में बरकत भी आएगी।

मोरपंख या मुरली

दीपावली की सफाई में लोग अपने पूजा घर को बहुत ही ढंग से साफ भी करते हैं। पुरानी हो चुकी या फिर खराब हो चुकी वस्‍तुओं को भी हटा ही देते हैं। अगर पूजा घर की सफाई करते समय आपको मोरपंख या मुरली ही मिल जाए तो बहुत खुश तो हो जाना चाहिए। इन दोनों चीजों का संबंध भगवान विष्‍णु के अवतार कृष्‍णजी से ही माना जाता है। अचानक से इन वस्‍तुओं के मिलने का अर्थ है कि आप पर विष्‍णुजी की पत्‍नी मानी जाने वाली माता लक्ष्मी बहुत प्रसन्‍न होने वाली हैं।

शंख या कौड़ी

शंख और कौड़ी का सीधा संबंध मां लक्ष्‍मी से ही माना गया है। अगर दीपावली की सफाई में आपको फालतू सामान हटाते समय शंख या कौड़ी अगर मिल जाएं तो इसे प्रभु कृपा समझकर गंगाजल से धोकर अपने धन के स्‍थान में ही रख लें। ऐसा करने से आपके घर में सुख समृद्धि स्‍थापित होती है। इसके साथ ही घर की सफाई करते समय अक्‍सर पुराने कैंलेंडर में ही भगवान की तस्‍वीर मिल जाती है। भूलकर भी इन तस्‍वीरों को फेंकना बिल्कुल नहीं चाहिए। बल्कि इन्‍हें अपने बच्‍चों के पढ़ने के स्‍थान में ही रख देना चाहिए। ऐसा करने से आपके बच्‍चों की बुद्धि बहुत तेज होती है।

रसोई की सफाई में मिले यह चीज

दीपावली पर महिलाएं रसोई की सफाई भी किया करती हैं। पुरानी हो चुकी या फिर खराब हो रही दालें या अन्‍य खाने की चीजों को फेंक भी देती हैं। अगर इन्‍हीं में आपको अक्षत यानी कहीं रखे हुए चावल भी मिल जाएं जिनके बारे में बारे में आपको ज्ञात ही न हो या फिर आप भूल ही चुकी हों तो इन्‍हें भी अपना गुडलक ही मानें। अक्षत का संबंध मां लक्ष्‍मी और शुक्र ग्रह दोनों से ही होता है और दोनों ही हमारे जीवन में भौतिक सुविधाएं और खुशियां प्रदान भी करते हैं। ऐसे चावलों का प्रयोग खाने में न करें, बल्कि पूजा पाठ से जुड़े कार्यों में इनको इस्‍तेमाल में लाएं।

लाल रंग का कपड़ा

मां लक्ष्‍मी का प्रिय रंग लाल भी होता है। उनकी पूजा में लाल रंग के वस्‍त्र और लाल रंग के फूल भी अर्पित किए जाते हैं। अगर दीपावली की सफाई करते समय आपको यह किसी अलमारी से कोरा लाल कपड़ा मिल जाए तो इसे अपना सौभाग्‍य समझकर रख ही लें। लाल रंग का कपड़ा मिलना आपके आने वाले सुनहरे कल के बारे में बताता भी है।

About neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *