जब फिरोज़ खान की एंट्री पर पाकिस्तान में लगा था बेन, लेकिन महेश भट्ट ने मांग ली थी माफी, जानिए क्या था मांजरा

बॉलीवुड में एक अभिनेता ऐसा भी था जिसने पाकिस्तान की जमीन पर भरी महफिल में उसे उसकी औकात याद दिला दी थी। इस घटना से पाकिस्तान इतना बौखला गया था की उन्होने अभिनेता की अपने देश में एंट्री तक बैन कर दी थी। दरअसल यह बेबाक अभिनेता और कोई नहीं बल्कि दमदार एक्टिंग और डायलॉग के लिए फेमस फिरोज खान थे।

यह घटना अप्रैल 2006 की है। तब फिरोज खान अपने भाई अकबर खान की फिल्म ‘ताजमहल’ को प्रमोट करने पाकिस्तान के लाहौर गए थे। इस दौरान उन्होने पाकिस्तानियों के सामने ही भारत की तारीफ़ों के पूल बांध दिए थे। उन्होने कहा था कि ‘भारत एक सेकुलर देश है। वहां मुस्लिम तरक्की कर रहे हैं। हमारे राष्ट्रपति मुस्लिम हैं, प्रधानमंत्री सिख हैं। पाकिस्तान इस्लाम के नाम पर बनाया गया है। लेकिन यहां के मुस्लिमों को देखो एक मुस्लिम ही दूसरे मुस्लिम को मार रहा है।‘

इसी इवेंट में अभिनेत्री मनीषा कोइराला भी मौजूद थी। उनके ऊपर पाकिस्तानी एंकर फख्र-ए-आलम ने एक आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी थी जिसे सुन फिरोज खान भड़क गए थे। हुआ ये था कि जब एंकर मनीषा से कुछ सवाल कर रहा था तो वे थोड़ा झिझक रही थी, ऐसे में एंकर ने उनसे कहा ‘मैम आप कांप रही हैं.. इसलिए मैं आपसे सवाल नहीं पूछूंगा।’ एंकर की यह बात सुन पास में ही बैठे फिरोज खान को गुस्सा आ गया और उन्होने एंकर को लताड़ते हुए बोला ‘अच्छा होगा कि तुम मनीषा से माफी मांग लो, वरना मैं तुम्हारी ऐसी-तैसी कर दूंगा।’

महेश भट्ट ने मांगी थी माफी

इस घटना के बाद फिल्म डायरेक्टर महेश भट्ट ने एंकर फख्र-ए-आलम और पाकिस्तानी जनता से फिरोज खान की तरफ से माफी मांगी थी। उन्होने कहा था कि ‘मैं फिरोज खान के रवैये के लिए क्षमा मांगता हूं, आशा है कि फख्र-ए-आलम और पाकिस्तानी आवाम हमे माफ कर देंगी।’ दरअसल उस समय महेश भट्ट इंडियन डेलिगेशन का हिस्सा थे। ऐसे में उस डेलिगेशन में शामिल सभी लोगों ने भी पाकिस्तान से माफी मांगी थी। इस डेलिगेशन में फिरोज के अलावा उनके भाई अकबर खान, संजय खान सहित पहलाज निहलानी, फरदीन खान, श्याम श्रॉफ, शत्रुघ्न सिन्हा, महेश भट्ट, विकास मोहन और ‘ताज महल’ फिल्म के कई सितारें शामिल थे।

पाकिस्तान ने लगाया फिरोज खान की एंट्री पर बैन

फिरोज खान ने जब फख्र-ए-आलम और पाकिस्तानियों को भरी महफिल में उनकी औकात याद दिलाई तो वे इससे बहुत नाराज़ हो गए थे। तब तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने फिरोज खान को पाकिस्तानी वीजा न देने का ऑर्डर तक दे दिया था।

मर्ज़ी से पाकिस्तान नहीं गए थे फिरोज खान

इवेंट में फिरोज खान ने यह तक बोल दिया था कि मैं यहां खुद नहीं आया हूं, बल्कि मुझे बुलाया गया है। हमारी फिल्मों में इतना पावर होता है कि तुम्हारी सरकार इन्हें अधिक दिनों तक रोक नहीं सकती है।

बता दें कि इस घटना के तीन साल बाद अप्रैल 2009 में फिरोज खान का लंग कैंसर के चलते निधन हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.