Karwa Chauth : बेहद खास है इस साल का करवा चौथ, महिलाओं पर रहेगी सूर्यदेव की विशेष कृपा, नोट कर लें पूजा का शुभ मुहूर्त

महिलाओं के लिए अखंड सौभाग्यवती होने का व्रत करवा चौथ हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को ही रखा जाता है। करवा चौथ का व्रत सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु और वैवाहिक जीवन सुखमय होने की कामना पूर्ति के लिए निर्जला व्रत भी रखती हैं। पंचांग के अनुसार करवा चौथ का व्रत 24 अक्टूबर दिन रविवार को ही रखा जायेगा।

करवा चौथ व्रत इस लिए है विशिष्ट

इस बार करवा चौथ व्रत रविवार को ही पड़ रहा है। हिंदू धर्म में रविवार का दिन भगवान सूर्य को भी समर्पित होता है। रविवार के दिन व्रत रखने से सूर्यदेव बहुत प्रसन्न होते हैं। भक्तों पर विशेष कृपा भी बरसते है। चूंकि रविवार के दिन करवा चौथ का व्रत रखा जायेगा इसलिए व्रती को भगवान सूर्य की विशेष कृपा प्राप्त होगी। धार्मिक मान्यता है कि, सूर्य की कृपा से भक्त को दीर्घायु की भी प्रति होती है। वह आरोग्यता को भी प्राप्त करता है। करवा चौथ व्रत भी दीर्घायु के लिए ही रखा जाता है। ऐसे में रविवार के दिन करवा चौथ व्रत का महत्व काफी अधिक बढ़ जाता है।

यही नहीं इस बार करवा चौथ व्रत की पूजा रोहिणी नक्षत्र में ही ही रही है। ऐसे में रविवार का दिन और रोहिणी नक्षत्र होने की वजह व्रती महिलाओं को सूर्यदेव का ओर भी अधिक आशीर्वाद प्राप्त होगा।

करवा चौथ व्रत पूजा का शुभ मुहूर्त

इस बार चांद रोहिणी नक्षत्र में निकलेगा और व्रत का पूजन इसी नक्षत्र में होगा। कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि 24 अक्टूबर 2021, रविवार सुबह 3 बजकर 1 मिनट पर शुरू होगी। यह तिथि अगले दिन 25 अक्टूबर को सुबह 5 बजकर 43 मिनट पर समाप्त होगी। करवा चौथ के दिन चांद निकलने का समय 8 बजकर 11 मिनट पर है। पूजन के लिए शुभ मुहूर्त 24 अक्टूबर 2021 को शाम 6:45 से लेकर 08:51 तक रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.