Breaking News
Home / खबरे / 12 वर्षों से अपनी घर की छत पर उगा रहें केमिकल मुक्त सब्जियाँ और पैदावार इतनी कि पड़ोसियों को भी बाट रहे

12 वर्षों से अपनी घर की छत पर उगा रहें केमिकल मुक्त सब्जियाँ और पैदावार इतनी कि पड़ोसियों को भी बाट रहे

आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं जिन पर सब्जियों की महंगाई का कोई भी असर नहीं होता है। क्योंकि उन्होंने अपने छत को ही पूरी तरह से किचन गार्डन के रूप में बदल कर रख दिया है और साथ ही उन लोग ताजी और केमिकल मुक्त सब्जियों का लुत्फ भी उठाते हैं। आइए जानते हैं कैसे?

अक्सर लोग ताजी, केमिकल मुक्त सब्जियाँ, फल खाना तो चाहते हैं, लेकिन उन्हें बिल्कुल भी मिल नहीं पाता है और दूसरी बात कि ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि काश मेरे पास भी ज़मीन होता तो मैं भी ताजी सब्जीयाँ और फल तो उगा ही पाता।

महेंद्र साचन ( Mahendr Sachan ) जो लखनऊ के मुंशी पुलिया इलाके में रहने वाले एक आम नागरिग हैं। वह खाने के इतने बड़े शौकीन हैं, की उन्होंने अपनी घर की छत को ही एक किचन गार्डन के रूप में बना डाला है। वह अपने घर की छत पर ही 20 से ज़्यादा अलग तरह की हरी सब्जियाँ उगाते हैं और उसमें कोई भी केमिकल युक्त खाद्य दवाइयों का बिल्कुल भी प्रयोग नहीं करते हैं। महेंद्र साचन के अनुसार छत पर सब्जियों की खेती करने से वह लगभग 2000-3000 रुपये नहीं महीना आराम से बचा लेते हैं। महेंद्र ख़ुद तो जैविक सब्जियाँ खाते ही हैं और साथ ही साथ पड़ोसियों में भी उन्हे बांटते है।

साचन कहते हैं कि केमिकल और दवाइयों के द्वारा उगाए गए फलों और सब्जियों को खाने से हमारे स्वास्थ्य पर बहुत है जायदा बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए मैंने अपने घर की छत पर ही केमिकल मुक्त सब्जियाँ उगाने का निर्णय किया। वैसे उन्होंने शुरुआत में सिर्फ़ कुछ ही पौधे लगाए थे, जैसे-बैंगन, लौकी, टमाटर, मूली इत्यादि के। लेकिन बाद में उन्होंने अपने पूरे छत को ही हरी सब्जियों से पूरी तरह भर दिया। उनके अनुसार इन सब्जियों को पकने में भी बहुत कम ही समय लगता है।

“ऑर्गैनिक तरीके से उगाए जाने वाले फलों और सब्जियों में ज़्यादा ऐंटि-ऑक्सिडेंट्स भी होते हैं क्योंकि इनमें पेस्टिसाइड्स बिल्कुल भी नहीं होते इसलिए ऐसे पोषक तत्व बरकरार रहते हैं जो आपकी सेहत के लिए अच्छे हैं और आपको बीमारियों से बचाते हैं।“– महेंद्र साचन

उनका ऐसा मानना है कि छतों पर सब्जियाँ उगाने के लिए किसी विशेष तकनीक की बिल्कुल भी ज़रूरत नहीं है। कोई भी अपने घर की छत पर किचन गार्डन आराम से बना सकता है। छत पर किचन गार्डन होने का एक और सबसे बड़ा फायदा ये भी है कि आपके घर का निचला हिस्सा गर्मियों में भी बहुत ठंडा रहता है, जिससे AC की ज़रूरत बिल्कुल भी नहीं पड़ती और बिजली की भी बचत होती है। ” वह पिछले 11-12 सालों से यह काम कर रहे हैं और अब तो उन्होंने अपने कई दोस्तों के घरो के छतों पर भी किचन गार्डन तो बनवा भी दिया है।

About neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *