HARYANA की सान भैंसे ‘सुल्तान’ की हार्ट अटैक से मौत,लाखों में बिकते थे इसके सीमन- जाने ‘सुल्तान’ खास बात

इंसान हो या पशु सब अपने अच्छाई के लिए ही वो जाना जाता है। पशु में क्या अच्छाई, तो आइए जानते हैं सुल्तान नाम के एक भैंसे की कहानी। हरयाणा के सान भैंसे “सुल्तान” की दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ने से मौत हो गई है। सुल्तान देश ही नहीं विदेश तक में बहुत प्रसिद्ध है। इस अनोखे भैंसे की दाम 21करोड़ रुपए थी। साथ ही अपने मालिक को करोड़ो रुपए कमाई कर के देता था।कहते हैं न यदि आप में काबलियत हो तो दुनिया आपकी कदम चूमती है।

पुष्कर मेले में लगी थी सुल्तान की कीमत 21 करोड़ रुपए

राजस्थान के पुष्कर मेले में एक पशु प्रेमी ने सुल्तान की कीमत 21 करोड़ रुपए लगाई थी, लेकिन सुल्तान के मालिक नरेश ने उसे बेचने से साफ इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि सुल्तान उसका बेटा है और बेटों की कोईभी कीमत नहीं हुआ करती। नरेश व उसके भाई सुलतान की देखभाल अपने बेटे की तरह ही किया करते थे। नरेश ने सुल्तान को बचपन से पाला है। उसको अपने बच्चे की तरह लाड-दुलार दिया। लेकिन आज उसके चले जाने के बाद परिवार में एक कमी सी महसूस भी हो रही है।

सुल्तान था दुनिया का सबसे लंबा भैंसा

भैंसों के मालिक नरेश बेनीवाल के मुताबिक मुर्रा नस्ल का सुल्तान दुनिया का सबसे लंबा 6 फीट से ज्यादा और सबसे ऊंचा भैंसा है। सुल्तान का वजन 1700 किलो था। यह एक बार बैठ जाता है तो करीब 7 से 8 घंटे तक वहीं बैठा रहता है। बेनीवाल बताते हैं कि भारत में हुए कई एनिमल कांटेस्ट में सुल्तान विजयी भी रह चुका है। इस नस्ल के उनके पास 25 से भी ज्यादा भैंसे हैं।

रोजाना 3000 रुपए का खाता है चारा

नरेश बेनिवाल ने बताया कि सुल्तान सुबह के नाश्ते में सुल्तान देशी घी का मलीदा और दूध भी पीता था. उन्होंने आगे कहा कि सुल्तान नामक भैंसे को रोजाना 10 किलो दाना और इतना ही दूध उससे मै दिया जाता है। इसे करीब 35 किलो हरा चारा भी दिया जाता है और ये सेब और गाजर तक को भी खाता है। सर्दियों में 15 किलो और गर्मियों में 20 किलो गाजर भी खिलाई जाती थी। उनका कहना कि यह भैंसा रोजाना करीब 3000 रुपए का तो चारा आराम से खा जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.