NZ-Pak series हुई नहीं, सुरक्षा में लगे जवान 27 लाख की बिरयानी खा गए

पाकिस्तान के करीब 500 पुलिसकर्मियों ने आठ दिनों तक रोज दो दफा बिरयानी जमकर खाई। ठीक वैसे ही जैसे बजरंगी भाईजान की मुन्नी की भूख का इलाज कुकड़ू कू ठीक वैसे ही इनकी भूख का इलाज शायद बिरयानी थी. अब बिल देख प्रशासन हक्का-बक्का रह गया।

पाकिस्तान (Pakistan) के सुरक्षाकर्मियों ने आटा गिला कर दिया है। नहीं-नहीं हम यह नहीं कहना चाह रहे कि उन्हें आटा गूथना नहीं आता और पानी ज्यादा डालने की वजह से आटा गिला हो गया है। हम तो बात कर रहे हैं गरीबी में आटा गिला करने की। चलिए बताते हैं कि पाकिस्तान के साथ क्या चोट हुई है?

दरअसल, हमारे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की माली हालत किसी से छिपी नहीं है। हाल ही में न्यूजीलैंड (New Zealand Team) और इंग्‍लैंड (England) की क्रिकेट टीम ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पाकिस्तान का दौरा रद्द कर दिया। जिस वजह से न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच वनडे और टी 20 की सीरीज नहीं खेली गई। इस दौरे के रद्द होने से वैसे ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है उपर से उनके उपर 27 लाख खाने का बिल (Rs 27 Lakh Biryani Bill) और पहुंच गया।

एक तरफ इस दौरे के रद्द होने से वैसे ही क्रिकेट जगत में हलचल मची हुई है। बदहवासी में पाकिस्तना क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख रमीज राजा आकर ‘इस अपमान का बदला लेने’ की बात कर रहे हैं। वहीं इमरान खान सरकार के मंत्री, पूरे घटनाक्रम का जिम्मेदार भारत को मान रहे हैं। पाकिस्‍तान के सूचना और प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने दावा किया कि न्‍यूजीलैंड की क्रिकेट टीम को धमकी भरा यह ईमेल मुंबई से भेजा गया था.

अभी यह बयानबाजी चल ही रही थी कि पाकिस्तान को एक झटका लगा. हम और आप आठ दिनों में कितने की बिरयानी खा सकते हैं? हम शायद हफ्ते में एक ही दिन खाना पसंद करें वो भी फुल या हॉफ. डाइट पर फोकस करने वाले क्वार्टर में भी काम चला लेंगे. ज्यादा से ज्यादा 1000 रुपए का बिल आएगा. खैर, सबकी अपनी खाने की क्षमता होती है.

पाकिस्तानी वेबसाइट के अनुसार, न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम पाकिस्तान के दौरे पर आठ दिनों तक रूकी थी. ऐसे में न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम की सुरक्षा में पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मी लगे थे. सुरक्षाकर्मियों में अपनी ड्यूटी में तो कोई कमी नहीं छोड़ी लेकिन वे लगभग 27 लाख रुपए की बिरयानी हजम कर गए. यह दावा हमने नहीं बल्कि 24NewsHDTV नाम के एक चैनल किया है. जिसने भी यह खबर सुनी हैरान रह गया, वे कहने लगे ये दानव हैं या मानव. भला कोई एक हफ्ते में 27 लाख की बिरयानी कैसे खा सकता है? चलिए आपको पूरी बात बताते हैं. 

असल में न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीम आठ दिन तक इस्लामाबाद की सेरेना होटन में ठहरी थी। जिनकी सुरक्षा के लिए कैपिटल टेरेटरी पुलिस को तैनात किया गया था। इस दौरान करीब 500 पुलिसकर्मी ड्यूटी कर रहे थे। इन सुरक्षा कर्मियों ने आठ दिनों तक रोज दो दफा बिरयानी जमकर खाई। ठीक वैसे ही जैसे बजरंगी भाईजान की मुन्नी की भूख का इलाज कुकड़ू कू…ठीक वैसे ही इनकी भूख का इलाज शायद बिरयानी थी। अपन को तो खाने से मतलब है बिल तो किसी और के नाम का फटेगा

ठहिरए-ठहरिए इन पुलिसवालों के खाने का खर्च करीब 27 लाख आया है। इस घटना की जानकारी तब हुई सबके सामने आई जब बिल पास होने के लिए फाइनेंस विभाग के पास पहुंची। जिस मौज से सबने बिरयानी का दावत उड़ाई थी उनको गिल्ट तब महसूस हुआ जब इतना बड़ी रकम की बिल को रोक लिया गया है।

यह खाने का बिल ना होकर एक दर्दनाक हादसा बन गया है। पाकिस्तान के लिए तो जले पर नमक छिड़कने जैसा ही हो गया। वैसे भी पाकिस्तना दौरा रद्द करवाने का इल्जाम भारत पर फोड़ रहा है। उनका बस चलें तो किसी के छिकने का इल्जाम भी भारत पर लगा दें। ऊपर से उनके सिर 27 लाख खाने का बिल नहीं बिला फटा है, अब ऐसे में बौखलाना तो लाजिमी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.