Breaking News
Home / खबरे / बिना छुट्टी मिले अमिताभ बच्चन के साथ KBC 13 खेलने पहुंचा रेलवे कर्मचारी, 3 साल के लिए मिली बड़ी सजा!

बिना छुट्टी मिले अमिताभ बच्चन के साथ KBC 13 खेलने पहुंचा रेलवे कर्मचारी, 3 साल के लिए मिली बड़ी सजा!

विज्ञान और मनोरंजन का भंडार ‘कौन बनेगा करोड़पति’ टीवी शो अपने 13वें सीजन में प्रवेश कर चुका है। बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट पर उनके साथ बैठने का सपना लिए कंटेस्टेंट फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। शो को शुरू हुए एक सप्ताह भी नहीं हुआ है और अब तक कई कंटेस्टेंट्स ने अमिताभ बच्चन के सवालों के जवाब देकर लाखों की धनराशि जीती। वहीं, केबीसी 13 की पहली करोड़पति दृष्टिहीन कंटेस्टेंट हिमानी बुंदेला बन चुकी हैं। हिमानी ने 15 सवालों का जवाब देते हुए 1 करोड़ रुपए जीते हैं।

‘केबीसी 13’ में करोड़पति बनने का सपना लिए हॉट सीट पर बैठने वाले एक कंटेस्टेंट को अब कानूनी कार्रवाई का सामना भी करना पड़ रहा है। दरअसल, अमिताभ बच्चन के शो में जाना राजस्थान के देशबंधु पांडे को कुछ ज्यादा ही महंगा पड़ गया है। देशबंधु कोटा रेल मंडल के स्थानीय खरीद अनुभाग में कार्यालय अधीक्षक के तौर पर हैं और उनके ही डिपार्टमेंट ने उनके खिलाफ शो में हिस्सा लेने के बाद कड़ी कार्रवाई कर दी है। जब वह शो से वापस लौटे तो रेलवे प्रशासन ने उन्हें चार्जशीट थमा दी।

अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट तक पहुंचने वाले देशबंधु पांडे ने शो में 3,20,000 की धनराशि जीती। वह 6 लाख 40 हजार के सवाल पर अटक गए और गेम क्विट कर दिया। अब उनके शो में जाने के बाद रेलवे प्रशासन ने उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर दी है, यहां तक की तीन साल तक उनकी सैलरी में वृद्धि को भी रोक दिया गया है। देशबंधु पांडे ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उनके खिलाफ ऐसी बड़ी कार्रवाई भी हो सकती है। लेकिन देशबंधु पांडे के खिलाफ ये कार्रवाई हुई क्यों?

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केबीसी में भाग लेने के लिए देशबंधु पांडे ने 9 से 13 अगस्त तक छुट्टी के लिए अधिकारियों को इसकी सूचना देनी थी, लेकिन उन्होंने पांडे के आवेदन पर कोई विचार भी नहीं किया। इस बीच देशबंधु पांडे बिना छुट्टी मिले ही केबीसी की शूटिंग के लिए मुंबई में पहुंच गए। उन्होंने हॉट सीट पर पहुंचकर अपना सपना तो पूरा भी कर लिया लेकिन अब उन्हें यह बहुत महंगा पड़ गया है। रेलवे प्रशासन की तरफ से चार्जशीट को लेकर अब देशबंधु और उनका पूरा परिवार डरा हुआ है।

देशबंधु, रेलवे की कार्रवाई से कुछ इस कदर डरे हुए हैं कि वह डिपार्टमेंट के खिलाफ कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। उन्हें डर है कि मीडिया को कोई बयान देने से रेलवे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई कर सकता है, हालांकि रेलवे की चार्जशीट का जवाब उन्होंने पहले ही दे दिया है। इस बीच देशबंधु को कर्मचारी संगठनों का समर्थन तो मिला है। वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के मंडल सचिव खालिद ने कहा है कि पांडे के साथ रेल प्रशासन ने बिल्कुल भी ठीक नहीं किया है। मजदूर संघ उनके लिए न्याय की लड़ाई लड़ेगा।

About neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *